बीएसएपी के नए रंगरूटों को आतंकवाद से लड़ने का दिया जा रहा कठोर प्रशिक्षण: डीजी - News Point Hindi
Image default

बीएसएपी के नए रंगरूटों को आतंकवाद से लड़ने का दिया जा रहा कठोर प्रशिक्षण: डीजी

Listen to this article

बीएसएपी के नए रंगरूटों को आतंकवाद से लड़ने का दिया जा रहा कठोर प्रशिक्षण: डीजी

उत्तम कुमार यादव, संवाददाता, मुंगेर

मुंगेर/बिहार:- बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस (बीएसएपी) के अपर महानिदेशक ए. के.अंबेदकर मंगलवार को अपने एकदिवसीय दौरे पर बीएसएपी के प्रशिक्षण केन्द्र जमालपुर पहुंचे। कैंप में आगमन पर महानिदेशक का गार्ड आफ आनर से स्वागत किया गया।
इस दौरान बीएसएपी के डीआईजी दलजीत सिंह, कमांडेंट नवीन कुमार झा, मुंगेर डीआईजी संजय कुमार एवं पुलिस अधीक्षक जगुन्नाथ रेड्डी जलारेड्डी मुख्य रूप से मौजूद थे।
कमांडेंट नवीन कुमार झा ने महानिदेशक को प्रशिक्षण केन्द्र और वहां संचालित गतिविधियों, संबंधित प्रोफेशनल मुद्दों और संसाधनों पर विस्तृत जानकारियां दी। महानिदेशक ने भविष्य में आनेवाली चुनौतियों के लिए प्रशिक्षुओं को और बेहतर तरीके से तैयार करने का आह्वान किया, जिससे भविष्य में वे सीमाओं की रक्षा भी अभेद्य ढंग से कर सके।
आतंकवाद का जवाब देने के लिए दिया जा रहा कठोर प्रशिक्षण:
महानिदेशक ने कहा कि पाकिस्तान सीमा पर जिस तरह से आतंकवादियों को अत्याधुनिक ट्रेनिंग के साथ साथ सैन्य प्रशिक्षण दे रहा है, उसे देखते हुए अब बीएसएपी ने भी अपनी ट्रेनिंग प्रक्रिया में काफी बदलाव किया है। यहां भी अब आतंकवाद का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए नए रंगरूटों को कठोर प्रशिक्षण दिया जाता है, क्योंकि बीएसएपी रक्षा की पहली पंक्ति है। सुरक्षा को सुनिश्चित करना ही बीएसएपी का पहला कर्तव्य है।
जमालपुर में चुनिंदा ट्रेनरों को दी जा रही ट्रेनिंग:
महानिदेशक ने कहा कि बिहार सरकार ने 8 हजार 400 से अधिक नए जवानों को पुलिस में नियुक्त किया है। जवानों की बेहतरी को लेकर सरकार द्वारा कई कदम भी उठाए जा रहे हैं। जवानों को बेहतर ट्रेनिंग के लिए अच्छे ट्रेनर की जरूरत पड़ती है। बीएसएपी 9 जमालपुर में ऐसे ही चुनिंदा ट्रेनरों को ट्रेनिंग दी जा रही है, जो ट्रेनर अपने अपने क्षेत्रों में जाकर नए रंगरूटों को अपने ढंग से तैयार करेगें।
माक ड्रील कर जवानों ने दिखाया करतब:
इस दौरान जवानों ने नक्सलियों द्वारा अपहृत एक व्यक्ति के सकुशल बरामदगी का डेमो दिखाया जिस पर जवानों ने जमकर तालियां बटोरी। इसके अलावा पीटी, योगा एवं मार्शल आर्ट, अत्याधुनिक हथियारों का भी जवानों द्वारा बेहतरीन प्रदर्शन किया गया। डेमोस्ट्रेशन का नेतृत्व अनुदेशक जितेंद्र कुमार ने किया। बीएसएपी जवानों के डेमोस्ट्रेशन को देखकर अधिकारियों ने भी जवानों की हौसला अफजाई की।
कार्यक्रम का संचालन बीएसएपी 9 के डीएसपी अनील कुमार पासवान ने किया।

मिलता - जुलता खबरें

नगर निकाय चुनाव को लेकर जिलाधिकारी ने अधिकारियों के साथ की बैठक

NewsPointHindi Desk

शिविर लगाकर सैंकड़ों लोगों के समस्याओं का किया गया निवारण

NewsPointHindi Desk

जिलाधिकारी ने यातायात नियमों के पालन को लेकर दिलाई शपथ

priya jha

Leave a Comment