हमारा छात्र रोजगार लेनेवाला नहीं बल्कि देनेवाला बने: नकुल शर्मा - News Point Hindi
Image default

हमारा छात्र रोजगार लेनेवाला नहीं बल्कि देनेवाला बने: नकुल शर्मा

Listen to this article

हमारा छात्र रोजगार लेनेवाला नहीं बल्कि देनेवाला बने- नकुल शर्मा

मुंगेर/बिहार:- भारती शिक्षा समिति बिहार एवं शिशु शिक्षा प्रबंध समिति बिहार के तत्वावधान में रविवार को सरस्वती विद्या मंदिर, मुंगेर में विभागीय आचार्य प्रतिभा विकास वर्ग-2022 की शुरूआत हुई। कार्यक्रम का उद्घाटन दीप प्रज्वलन कर विद्या भारती उत्तर-पूर्व क्षेत्र के क्षेत्रीय सचिव नकुल कुमार शर्मा, रोहतास विभाग के निरीक्षक उमाशंकर पोद्दार, सरस्वती विद्या मंदिर मुंगेर के अध्यक्ष अमरनाथ केशरी एवं प्रधानाचार्य संजय कुमार सिंह ने की।
क्षेत्रीय सचिव नकुल कुमार शर्मा ने कहा कि अपनी दिनचर्या व्यवस्थित एवं विद्यालय के अनुकूल बनाने तथा सभी कार्य सहजतापूर्वक करने के लिए प्रतिदिन आसन, प्राणायाम, योग इत्यादि करना चाहिए। हम स्वस्थ रहेंगे तभी अपने छात्रों को भी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दे सकेंगे। विद्या भारती ने अपने पाँच आधारभूत विषयों में शारीरिक एवं योग को विशेष महत्व दिया है। इसे अपने जीवन में भी उतारना एवं छात्रों को भी उतारने के लिए प्रेरित करना। अपना छात्र रोजगार माँगने वाला नहीं बल्कि रोजगार देने वाला बने।
आगे उन्होंने कहा कि हम सभी जहाँ से प्रेरणा लेकर कार्य करते हैं ऐसे सामाजिक संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखा के लिए अपने महत्वपूर्ण समय में से एक घंटा अवश्य निकालना चाहिए। आचार्य का मतलब है कि स्वयं के आचरण से दूसरों को प्रेरित करना। इसलिए विद्या भारती में शिक्षक को आचार्य कहा जाता है। छात्र हमारे प्रत्येक गतिविधियों को सूक्ष्मता से निरीक्षण करते हैं, तदनुसार आचरण करते हैं अतः हमें प्रत्येक दृष्टि से आदर्श बनना होगा तभी हम विद्या भारती के उद्देश्यों की पूर्ति कर सकेंगे।
कार्यक्रम की प्रस्तावना रखते हुए रोहतास विभाग के निरीक्षक उमाशंकर पोद्दार ने कहा कि नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन की दृष्टि से विद्यालय की गुणवत्ता में वृद्धि, विद्यालय ज्ञानार्जन का केन्द्र बने, छात्रों को सरल एवं सहज वातावरण उपलब्ध हो सके, उनके अंदर विभिन्न कौशलों का विकास हो, कक्षा कक्ष में होने वाले परिवर्तन, आनंदमयी शिक्षा तथा कई विषयों को साथ में लेकर चलना आदि की तैयारी एवं प्रयास को गति देना इस आचार्य प्रतिभा विकास वर्ग का उद्देश्य है जिस पर हम सभी अगले तीन दिनों तक चिंतन, मंथन करने वाले हैं।
अध्यक्षीय उद्बोधन में अमरनाथ केशरी ने कहा कि आचार्य गहराईपूर्वक विचार कर अपने छात्रों, समाज एवं अभिभावक से मिलकर कारगर नीति अपनाकर भारत माता को परम वैभव तक पहुँचाने का भरसक प्रयत्न करें तभी हमारा प्रयोजन सफल होगा। आचार्यों के मेहनत और कार्य के बल पर ही विद्या भारती विश्व की सबसे बड़ी गैर सरकारी शिक्षा संस्थान बनी है। इस कार्यशाला में बताए जाने वाले बातों को अपनाएं और राष्ट्रीय शिक्षा नीति का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करें।
मंच संचालन मुंगेर विभाग के जिला निरीक्षक सतीश कुमार सिंह तथा अतिथि परिचय एवं स्वागत विद्यालय के प्रधानाचार्य संजय कुमार सिंह के द्वारा किया गया।
इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग प्रचारक देवेन्द्र प्रसाद, प्रचारक नवल किशोर प्रसाद, पटना विभाग निरीक्षक डाँ0 रमेशमणि पाठक, रोहतास विभाग निरीक्षक उमाशंकर पोद्दार, गया विभाग निरीक्षक ब्रह्मदेव प्रसाद, नालंदा विभाग निरीक्षक सह प्रांतीय प्रचार संयोजक राकेश नारायण अम्बष्ठ, मुंगेर जिला निरीक्षक सतीश कुमार सिंह, भोजपुर विभाग के प्रवासी कार्यकर्ता वीरेन्द्र कुमार, भागलपुर विभाग के प्रवासी कार्यकर्ता विनोद कुमार, सेवा कार्य के प्रवासी कार्यकर्ता गंगा चौधरी एवं परमेश्वर कुमार, उपप्रधानाचार्य उज्ज्वल किशोर सिन्हा, बालिका खंड की प्रधानाचार्या कीर्ति रश्मि सहित लगभग 500 प्रतिभागी उपस्थित थे।

मिलता - जुलता खबरें

बिहार सियासत: पूरे देश में लागू होगा बिहार मॉडल : तेजस्वी

NewsPointHindi Desk

सुंदर और आकर्षक बनेगा सहरसा का मत्स्यगंधा झील

priya jha

पुलिस अधीक्षक ने आदर्श थाना जमालपुर का किया औचक निरीक्षण

priya jha

Leave a Comment